For a better experience please change your browser to CHROME, FIREFOX, OPERA or Internet Explorer.

कुमाऊं में पाले ने बढ़ाई मुसीबत, चम्पावत में शून्य से नीचे पहुंचा पारा, जमने लगा पानी

कुमाऊं के पर्वतीय जिलों में पाले की शुरुआत हो गई है। इससे तापमान में गिरावट देखने को मिल रही है। चम्पावत जिले में तापमान शून्य से नीचे पहुंच गया है। सोमवार को चम्पावत का न्यूनतम तापमान माइनस 0.8 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया। तापमान शून्य से नीचे पहुंचे से पानी की लाइनें जमने लगी हैं। अल्मोड़ा और पिथौरागढ़ में भी तापमान में कमी आई है। हालांकि नैनीताल जिले में तापमान में तेजी से ठंड से थोड़ी राहत मिली है। सोमवार को हल्द्वानी का अधिकतम तापमान 19.5 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। बीते 24 घंटे में तापमान में तीन डिग्री की कमी आई है, जबकि न्यूनतम तापमान में 6.8 डिग्री की वृद्धि हुई है। सोमवार का न्यूनतम तापमान 12.8 डिग्री रहा। मंगलवार सुबह हल्द्वानी में धूप खिली हुई है। नैनीताल व मुक्तेश्वर के तापमान में भी सुधार हुआ है। नैनीताल का न्यूनतम तापमान 5.0 डिग्री व मुक्तेश्वर का 3.8 डिग्री सेल्सियस रहा।

अगले दो दिन ठंड बरकरार रहेगी 

देहरादून मौसम विज्ञान केंद्र के निदेशक बिक्रम सिंह ने बताया कि पर्वतीय क्षेत्रों में आसपास साफ रहने से रात के समय पाला पड़ रहा है। इससे न्यूनतम तापमान में कमी देखने को मिली है। अल्मोड़ा, चम्पावत व पिथौरागढ़ जिलों में पाले की वजह से सुबह-शाम गलन पैदा करने वाली ठंड पड़ रही है। अगले दो दिन तापमान सामान्य से नीचे बने रहने की संभावना है। मंगलवार को पर्वतीय जिलों में रात को पाला पडऩे व मैदानी क्षेत्रों में कोहरा छाने की संभावना है। फिलहाल प्रदेश में बारिश के आसार नहीं हैं।

[ad id=’5793′]


Recent Comments