For a better experience please change your browser to CHROME, FIREFOX, OPERA or Internet Explorer.

पटवाडांगर में चार के खिलाफ एससी-एसटी एक्ट का मुकदमा

नैनीताल के समीपवर्ती क्षेत्र पटवाडांगर के बोहरा गांव में रहने वाले एक परिवार ने गांव के ही एक परिवार के चार लोगों पर जातिगत रूप से परेशान किए जाने का आरोप लगाया है। इस संबंध में तल्लीताल थाने में तहरीर दी गई है। पुलिस ने चार के खिलाफ एससी-एसटी एक्ट में मुकदमा दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। नैनीताल सीओ विजय थापा मामले में जांच कर रहे हैं।

जानकारी के अनुसार, पटवाडांगर के बोहरा गांव निवासी दीवानी राम टम्टा की ओर से तहरीर दी गई है। इसमें कहा है कि गांव में उनका एकमात्र परिवार अनुसूचित जाति का है। आरोप लगाया है कि गांव में रहने वाले एक परिवार के चार सदस्य आनंद बल्लभ, कमलेश जोशी, राकेश जोशी व नीमा जोशी की ओर से लगातार उनके परिवार का उत्पीड़न किया जाता है। यही नहीं, उसे जातिसूचक शब्दों का इस्तेमाल कर परेशान किया जाता है। आरोप यह भी है कि गांव में मौजूद एक मंदिर में उनके पूजा-अर्चना करने पर भी पाबंदी लगा रखी है। इस बात का विरोध किए जाने पर उनके घर जाने वाला रास्ता बंद कर दिया गया। सार्वजनिक रास्ते में स्थाई दीवार का निर्माण कर उसे परेशान किया जा रहा है। आरोप है कि वह खुद गांव छोड़कर चले जाएं, इसके लिए उनके घर में जानवरों का मल-मूत्र फेंका जा रहा है। शिकायती पत्र के आधार पर पुलिस ने चारों आरोपियों के खिलाफ आईपीसी की धारा 341, 504, 506 तथा एससी-एसटी एक्ट में मुकदमा दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। प्रकरण में सीओ नैनीताल विजय थापा जांच कर रहे हैं।


Recent Comments